चैत्र नवरात्रि और शारदीय नवरात्रि में अंतर

नवरात्रि साल में दो बार नहीं बल्कि चार बार आती हैं और चारों नवरात्रों के पीछे अलग-अलग कारण और प्रयोजन हैं। पहली नवरात्रि चैत्र माह में आती है। इस नवरात्रि को वसंत नवरात्रि भी कहते हैं। दूसरी नवरात्रि अषाढ़ माह में आती है, जिसे गुप्त नवरात्रि कहते हैं। तीसरी और सबसे महत्वपूर्ण नवरात्रि अश्विन माह में आती है, जिसे शारदीय नवरात्रि भी कहते हैं। चौथी नवरात्रि माघ माह में आती है, जिसे गुप्त नवरात्रि भी जाता है। हालांकि सभी नवरात्रें शक्ति की देवी माँ दुर्गा को ही समर्पित हैं। लेकिन पूजा, उपासना पद्धति में सभी अलग अलग हैं।